पहला भाव.

स्वामी - मंगल

कारक - सूर्य

परिचय - मुख,तन,

केश,स्‍वास्‍थ्‍य,व्‍यक्तित्‍व,

आत्‍मविश्‍वास,आत्‍मसम्‍मान,

आत्‍मा,योग्यता,तेज

दूसरा भाव.

स्वामी -  बृहस्पति

कारक - गुरु

परिचय - धन,चल-सम्पत्ति

तीसरे भाव.

स्वामी - शनि

कारक - मंगल

परिचय - साहस,बौद्धिक विकास,

भाई बहनों से संबंध

चौथा भाव.

स्वामी - शनि

कारक - चंद्रमा

परिचय - माता,गृह,वाहन,

बाग-बगीचा 

पांचवा भाव.

स्वामी - बृहस्पति

कारक - गुरु 

परिचय - संतान,लव पार्टनर

छठा भाव.

स्वामी -  मंगल

कारक - मंगल

परिचय - चिंता,भय

 

 

Lord Shiv is the impatient god of destruction and the dark forces ie. ghosts & spirits.

Goddess Parvati is the power and divine consort of Lord Shiv.

  • Tumre Bhavan Mein Jyot
  • -
  • Sujata Majumdar
00:00 / 00:00

सातवाँ भाव.

स्वामी - शुक्र

कारक - शुक्र

परिचय - विवाह, स्त्री-सुख

आठवां भाव.

स्वामी - बुध

कारक - शनि

परिचय - आयु,धन लाभ

नोवा भाव.

स्वामी - चन्द्र

कारक - गुरु

परिचय - धर्म,आध्यात्मिक प्रवृत्ति

दसवां भाव.

स्वामी - सूर्य

कारक - बुध

परिचय - रोज़गार,व्यापार

ग्यारहवां भाव.

स्वामी - बुध

कारक - गुरु

परिचय - आय,उन्नति

बारहवां भाव.

स्वामी - शुक्र

कारक - शनि

परिचय - खर्च,विदेश यात्रा